Best 80 Dhoka Shayari In Hindi | धोखा देने वाली शायरी

दोस्तों ज़िन्दगी में धोखा देने वाले बहुत मिलते है इसीलिए हमें आप के Best 80 Dhoka Shayari In Hindi लिए लाये है आपको यहाँ अपनों से धोखा शायरी इन हिंदी भी मिलेंगे

Best 80 Dhoka Shayari In Hindi
Best 80 Dhoka Shayari In Hindi

Dhoka Shayari In Hindi

वो पुरानी खिलाड़ी थी धोकेबाज़ी के
शतरंज की मैं ही उसके लिए मोहरा नया था।

तुझे खबर नहीं पर एक बात सुन👂,
बर्बाद😥 कर दिया है,
तेरे कुछ दिनों के प्यार ने💔
Tujhe Khabar Nahi,
Par Ek Baat Sun,
Barbaad Kar Diya Hai,
Tere Kuch Dino Ke Pyar Ne.

दीवानगी का सितम तो देखोकि
धोखा मिलने के बाद भीचाहते है हम उनको .

Dhoka shayari in hindi
Dhoka shayari image

जीवन की असली ख़ुशी आपको तभी मिलेगी जब
आप गैरों से ज्यादा खुद पर यकीन करने लगेंगे।
jivan ki asali khushi aapako tabhi milegi jab
aap gairon se jyaada khud par yakin karane lagenge.

कैसे बयां करू अलफ़ाज़ नहीं है
दर्द का तुझे मेरे अहसास नहीं है
पूछते हो मुझसे क्या दर्द है
मुझे दर्द ये है की तू मेरे पास नहीं है

धोखा bewafa शायरी

उम्मीद क्या होती है पूछो उस इंसान से,
जो बैठा है आज भी किसी के इंतजार में.
Ummid Kya Hoti Hai Puchhe Us €Insaan Se,
Jo Baitha Hai Aaj Bhi Kisi Ke Intazaar Me.

धोका तूने ऐसा दिया.
मेरी जिंदगी का हर मकसद
मुझसे छीन लिया.

Dhoka shayari hindi

दिल से रोये मगर होंठो से मुस्कुरा बेठे,
यूँ ही हम किसी से वफ़ा निभा बेठे,
वो हमे एक लम्हा न दे पाए अपने प्यार का,
और हम उनके लिये जिंदगी लुटा बेठे..

साथ रहना था ही नहीं तो
तुमने हमसे नाता क्यों जोड़ा.
हमे धोका देकर तुमने
हमे कही का नहीं छोड़ा.
Saath Rahna Tha Hi Nahi To
Tumne Humse Naata Kyo Joda.
Hume Dhoka De Kar Tumne
Hume Kahi Ka Nahi Choda.

Dhoka shayari in hindi
Dhoka shayari download

धोखा खाए इंसान को टूटने के लिए नहीं बल्कि
खुद को समेटने के लिए हिम्मत चाहिए . . !!
dhokha khae insaan ko tootane ke lie nahin balki
khud ko sametane ke lie himmat chaahie . . !!

धोका तूने ऐसा दिया.
मेरी जिंदगी का हर मकसद
मुझसे छीन लिया.

Dosti me dhoka shayari

Dhoka Tune Aisa Diya.
Meri Jindagi Ka Har Maksad
Mujhse Chhin Liya.

हमारे चाहने वालों से हमे बस यही गिला है,
जिसे चाहा है उसी से धोका मिला है।

रिश्तों का मेरे कुछ ऐसा मंज़र है,
जुबां पर सब गले लगते है
मुड़ते ही मेरे खोपते पीठ पर खंजर है।

धोखेबाज दोस्त के लिए शायरी

जब से तुझ से बिछड़ गया हूँ,
टूट गया हूँ बिखर गया हूँ।

वो मुझ को छोड़ के जिस आदमी के
पास गया, बराबरी का भी होता तो सब्र आ जाता..!
Wo Mujh Ko Chor Ke Jis Admi Ke Pass Gaya,
Barabari Ka Bhi Hota To Sabr Aa Jaata..

अपनों से धोखा शायरी इन हिंदी

बड़ी ज़ालिम है ये रीत धोकेबाज़ी की इसमें
धोका देने की सजा धोका देने वाले को नहीं
धोका खाने वाले को मिलती है।

मैं हैरत नहीं क़िस्मत के पलटने से उसका तो
मिजाज ही ऐसा है, मुझे दुःख तो तुम्हारी बात पलटने पर हुआ

apno ne diya dhokha shayari

अक्सर वही पीठ पर वार करते हैं
जो कहते हैं की वो हमसे प्यार करते हैं।

तुम पहला रिश्ता नहीं हो मेरा जिसने धोका दिया है
मुझे कुछ अलग बात तो तब होती जब तुम सारी ज़िन्दगी मेरे साथ होती।

चम चम⚡️ करती चांदनी ✨,
टीम टीम 💫 करते तारे 🌟,
१० के साथ घूम 👫🏿 कर आती हैं,
और बोलती है बाबू हम है सिर्फ तुम्हारे😘|
Chamcham Karti Chandani,
Tim Tim Karte Taare,
10 Ke Sath Ghum Kar Aati Hai,
Aur Bolti Hai Babu Hum Hai Sirf Tumhare.

धोखा देने वाली शायरी

चलो धोका ही था तुम्हारा इश्क.
सब झूठ था, तो झूठ अपनी जुबा को कहने देते.
मै खुश था, मुझे धोखे में ही रहने देते.

आज वो फिर किसी और के साथ डेट पर जा रही है 👫🏾,
और उसके साथ फोटो खिचवा📸 के स्टोरी लगा रही है📱,
उसे लग रहा है मैं बहुत जल❤️‍🔥 रहा हु,
उस कम्बख़त को कौन समझाए वो और मेरी नज़रो🤓 में गिरती जा रही है|
Aaj Wo Fir Kisi Aur Ke Sath Date Par Ja Rahi Hai,
Aur Uske Sath Photo Khichwa Ke Story Laga Rahi Hai,
Use Lag Raha Hai Main Bahut Jal Raha Hu,
Us Kambhakat Ko Kon Samjhaye Wo Aur Meri Nazro Me Girti Jaa Rahi Hai.

Dhoka shayari in hindi
Dhoka shayari in hindi

हमे लगा हमे देख कर मुस्कुराना सीखा है उन्होंने,
पर वो तो पैसों से मुस्कुराया करते थे।
hame laga hame dekh kar muskuraana sikha hai unhonne,
par vo to paison se muskuraaya karate the.

pyar vyar sab dhoka hai shayari

बहुत मुश्किल से सीखा है,
खुश रहना उसके बिना।
अब सुना है ये बात भी,
परेशान करती है उसको।
Bahut muskil se sikha hai,
Khush rahna uske bina
Ab suna hai ye baat bhi,
Pareshan krti hai usko

कभी ग़म तो कभी तन्हाई मार गयी,
कभी याद आ कर उनकी जुदाई मार गयी,
बहुत टूट कर चाहा जिसको हमने,
आखिर में उनकी ही बेवफाई मार गयी।

आप यहाँ अभी पद Dhoka Shayari In Hindi रहे है

कोई नहीं याद रखता वफ़ा करने वालों को,
मेरी मानो बेवफा हो लो जमाना याद रखेगा।

मुझे भी शौक़ न था दास्ताँ सुनाने का,
मोहसिन उस ने भी पूछा था हाल वैसे ही।

dhoka shayari in hindi 140

धोका खा कर भी हम जिन्दा है.
तेरे दर्द के साथ भी हम जिन्दा है.
Dhoka Kha Kar Bhi Hum Jinda Hai.
Tere Dard Ke Sath Bhi Hum Jinda Hai.

धोखा देने वाली शायरी

तेरी मोहब्बत ने दिया सुकून इतना,
कि तेरे बाद कोई अच्छा न लगे,
तुझे करनी है बेवफ़ाई तो इस अदा से कर,
कि तेरे बाद कोई भी बेवफ़ा न लगे।

नजर उनकी जुबाँ उनकी
अजब है कि इस पर भी,
नजर कुछ और कहती है
जुबाँ कुछ और कहती है।

dard bhari dhoka bewafa shayari

मोहब्बत अब नहीं रही जमाने में,
अब लोग इश़्क नहीं मज़ाक किया करते है.
Mohabbat Ab Nahi Rahi Jamaane Me,
Ab Log Ishq Nahi Majaak Kiya Karta Hai.

हर भूल तेरी माफ़ की
तेरी हर खता को भुला दिया,
गम है कि मेरे प्यार का
तूने बेवफाई सिला दिया।

ये जो कहते है की तुम्हे तकलीफ में नही देख सकते
कसम खुदा की सबसे ज्यादा तकलीफ भी ये ही देके जाते है😥

विश्वास में धोखा देने वाली शायरी

तुम एक बार मुझसे मुझ जैसी
मोहब्बत करके तो देखो
प्यार उम्मीद से कम हो तो
सजा-ए-मौत देना

पल पल उसका साथ निभाते हम
एक इशारे पे दुनिया छोड़ जाते हम
समुद्र के बीच में पहुँच कर फरेब किया उसने
वो कहता तो किनारे पर ही डूब जाते हम
Pal Pal Uska Saath Nibhate Ham
Ek Ishare Pe Duniya Chod Jaate Ham
Samundr Ke Beech Mein Pahuch Kar Phareb Kiya Usane
Vo Kahata Toh Kinare Par Hee Doob Jaate Ham

उतरे ना किसी और की…मोहब्बत का घूंट..
तुम्हारे नाम का रोज़ा…मैं कुछ ऐसे रख लूँ…!

इश्क़ को भी आधार से लिंक करा दो कोई
जिसे मिल गया है उसे दोबारा न मिले🙂❤️

ना जाने कितने दर्द है जो सब्र बन कर,
नहीं कब्र बन कर उभर रहे है ज़िन्दगी में.
Na Jane Kitane Dard Hai Jo Sabra Ban Kar,
Nahi Kabra Ban Kar Ubhar Rahe Hai Zindagi Me.

प्यार में धोखा बेवफा शायरी

जब मै रोया
सुबक सुबक कर तेरी यादों में,
मेने तब महसूस किया की
कितना मुश्किल है सांस लेना
आँखों में भरे आंसू
छलक जाये तो अच्छा,
भारी दिल हो या बादल
बरस जाये तो अच्छा

थोड़ा बचा हूँ, बाकि हिसाब हो चुका है,
बहुत कुछ है, जो मुझमें राख़ हो चुका है.
Thoda Bacha Hu, Baki Hisaab Ho Chuka Hai,
Bahut Kuch Hai, Joi Mujhame Raakh Ho Chuka Hai.

Dhoka shayari in hindi
Dhoka shayari in hindi

इस ‘मतलब’ की दुनिया में
इश्क सिर्फ #दिखावा है
तुझे भी ‘धोखा’ मिलेगा
यह मेरा वादा है
is matalab ki duniya Me
ishk sirph #dikhaava hai
tujhe bhi ‘dhokha’ milega
yah mera vaada hai

अपनों से धोखा शायरी इन हिंदी sms

ज़िन्दगी हैं नादान इसलिए चुप हूँ,
दर्द ही दर्द सुबह शाम इसलिए चुप हूँ
कह दू ज़माने से दास्तान अपनी,
उसमे आएगा तेरा नाम इसलिए चुप हूँ

बिन बात के ही रूठने की आदत है
किसी अपने का साथ पाने की चाहत है
आप खुश रहें, मेरा क्या है
मैं तो आइना हूँ, मुझे तो टूटने की आदत है।

मोहब्बत करने वाल में भी अक्सर ये सिला देखा है
जिन्हे अपनी वफ़ा पे नाज़ था उन्हें भी बेवफा देखा है
Mohabbat Karane Vaal Mein Bhee Aksar Ye Sila Dekha Hai
Jinhe Apanee Vafa Pe Naaz Tha Unhen Bhee Bevapha Dekha Hai

रस्मों रिवाज की जो परवाह करते हैं
प्यार में वो लोग गुनाह करते हैं
इश्क वो जुनून है जिसमें दीवाने
अपनी खुशी से खुद को तबाह करते हैं

आदत नई हमे पीठ पीछे वार करने की
दो शब्द काम बोलते है पर सामने बोलते है

उम्र छोटी है तो क्या, ज़िंदगी का हरेक मंज़र देखा है
फरेबी मुस्कुराहटें देखी हैं, बगल में खंजर देखा

आशिकी की हद तो देखो,
धोखा मिलने के बावजूद भी हम उनपे मरते हैं.
Aashiqui Ki Had To Dekho,
Dhokka Milane Ke Bawajood Bhi Ham Unpe Marte Hai.

बात नहीं करने की शायरी

कल क्या खूब इश्क़ से मैने बदला लिया
कागज़ पर लिखा इश्क़ और उसे ज़ला दिया

कुछ लोग हमारी जिंदगी बन जाते है,
प्यार की निशानी बन जाती है,
अचानक ही फिर हमारी,
धोके की वजह ही बन जाती है।

सुनी सुनाई बात पर भरोसा ना था,
धोका खाने पर सारी बाते समझ आ गयी।

बस जीने की कुछ वज़ह होनी चाहिए,
वादे ना सही, साथ ना सही,
यादे तो होनी चाहिए।
Bas jeene ki kuchh vazah honi chahie,
vaade na sahi, saath na sahi, yade to honi chaahie.

मुझे धोका दे कर आज तू बहुत खुश है,
ऐसा कर के तू आज बहुत खुश है,
तेरी ख़ुशी तो हमसे थी ना,
मुझे आज तू इतना रुला कर भी खुश है।

धोका खा कर भी हम जिन्दा है,
तेरे दर्द के साथ भी हम जिन्दा है।

ज़िन्दगी में एक पल भी सुकून न पाया,
दुनिया की इस भीड़ में खुद को तनहा न पाया,
तेरे दिए ज़ख्मो को प्यार समझते रहे,
तेरे धोके में आके किसी से दिल न लगाया।

न तुमको कोई ऐसा मौका देते की तुम धोका देते.
अच्छा होता बेडियो से बाँध कर
अपने गिरफ्त में रखते.

मोहब्बत में कोई जी गया कोई प्यार में मर गया
मोहब्बत आग को सागर है फिर भी उतर गया कोई
प्यार में ज़ख्म का हिसाब बहुत पुराना है मेरे दोस्त
जख्म दे गया कोई जख्म भर गया कोई
Mohabbat Mein Koi Jee Gaya Koi Pyaar Mein Mar Gaya
Mohabbat Aag Ko Saagar Hai Phir Bhee Utar Gaya Koee
Pyaar Mein Zakham Ka Hisaab Bahut Purana Hai Mere Dost
Jakhm De Gaya Koee Jakhm Bhar Gaya Koee

उसे मालूम है दुनिया की हमदर्दी में धोके हैं
अली वह सोग में भी हो तोह बन थांन कर निकलती है.!

बहुत धोखा मिलता है उन लोगों को,
जो दिल के साफ़ होते है।

खूब देखे होंगे आँसू ख़ुशी की तुमने
कभी मिलो हमसे तुम्हें गम के हसी दिखाएँगे
Khoob Dekhe Honge Aansoo Khushee Kee Tumane
Kabhee Milo Hamase Tumhe Gam Ke Hasee Dikhaenge

कितने मकसदो के साथ जी रहे थे हम,
उस बेवफा ने धोखा क्या दिया,
मेरी जिंदगी का हर मकसद हमसे छीन लिया।

जाने क्यूं,
अब शर्म से,
चेहरे गुलाबी नहीं होते।
जाने क्यूं,
अब मस्त मौला
मिज़ाज नहीं होते

एक तरफ़ा ही सही पर प्यार मेरा सच्चा है,
ये भी एक राज है राज रहे तो अच्छा है.
Ek Tarfa Hi Sahi Par Pyaar Mera Sachha Hai,
Ye Bhi Ek Raaz Hai Hai Raaz Rahe To Achha Hai.

मुझे आती है
यादें तेरी
रुलाती है बहुत
यादें तेरी

हम इश्क़ निभाते रहे,
वो पीठ पीछे मजाक उड़ाते रहे,
जब तक ज़रूरत थी हमारी उन्हें,
तब तक साथ होने का ठोंगा दिखातें रहे।

न जाने कौन सा आसेब दिल मे बसता है
की जो भी ठहरा वो आखिर मकान छोड़ गया..!
Na Jaane Kaun Sa Aaseb Dil Mai Basta Hai
Ki Jo Bhi Thahra Wo Akhir Makaan Chor Gaya.

जब प्यार किया था
क्या सोचा था,
तुम बेवफाई करोगी,
तुम भूल जाओगी मुझे
और किसी और से सगाई करोगी

प्यार में धोखा मिलने वाला शायरी

मेरी कहानी तुम से शुरू
तुम पर ही खत्म,
सांसों की रवानी
तुमसे ही शुरू तुमपे ही ख़त्म

उस के यूँ तर्क-ए-मोहब्बत का सबब होगा कोई,
जी नहीं ये मानता वो बेवफ़ा पहले से था..!
Us K Yuun Tark-e-Mohabbat Ka Sabab Hoga Koi,
Jee Nahi Ye Manta Wo Bewafa Pehle Se Tha..

इतनी शिदत से भी
प्यार ना करना
कभी किसी से जनाब
बहुत गहराई में जाने वाले
अक्सर डुब जाते है

आँखों में बसा रखा है
तो लकीरों में
बसाने की
क्या जरूरत

समझ लेते है हम उनके दिल की बात को,
वह हमें हर बार धोखा देते हैं,
लेकिन हम भी मजबूर है दिल से,
जो उन्हें बार-बार मौका देते है||

बेवफ़ाओं की महफ़िल लगेगी ,
आज ज़रा वक़्त पर आना मेहमान-ए-ख़ास हो तुम.
Bewafao ki mahfil lagegi aaj
jra waqt par Aana mehmaan-e-khas ho tum.

अपनों से धोका मिलता है
जनाब वरना गैरों पर आखिर यकीन कौन करता है।

दिल तो हमारा वो आज भी बहला
देते हैं फर्क है तो सिर्फ इतना पहले
हँसा देते थे अब रुला देते हैं।
Dil to hamara wo aaj bhi bahala
dete hain fark to sirf itna pehle
hana dete the ab rula dete hain..

तेरी दोस्ती ने दिया सकूँ इतना की तेरे
बाद कोई भी अच्छा न लगे तुझे करनी
हो बेवफाई तो इस अदा से करना की
तेरे बाद कोई भी बेवफा न लगे।

जिन जख्मो से खून नहीं निकलता
समझ लेना वो ज़ख्म किसी अपने
ने ही दिया है।
jin jakhmo se khun nhi nikalta
samjh lena wo jakhm kisi apne
ne hi diya hai..

बे-फिजूली की जिंदगी का सिल-सिला ख़त्म,
जिस तरह की दुनिया उस तरह के हम।
be-fijuli ki zindagi ka sil sila khatam
jis tarha ki duniya us tarha ke hum.

साथ रहना था ही नहीं तो
तुमने हमसे नाता क्यों जोड़ा.
हमे धोका देकर तुमने
हमे कही का नहीं छोड़ा.

उनकी चाहत से इकरार न करते,
उनकी कास्मो का ऐतबार न करते,
गर पता होता कि हम सिर्फ मज़ाक है उनके लिए,
कसम से जान दे देते मगर प्यार नहीं करते||
Unki chaahat se ikaraar na karte,
Unki kaasmo ka aitabaar na karte,
Gar pata hota ki ham sirf mazaak hai unke liye,
Kasam se jaan de dete magar pyaar nahin karte.

आसा करता हूँ की आपको Dhoka Shayari In Hindi पोस्ट पसंद आया होगा

Post Link :-

77+ Dhoka shayari in hindi | Dhoka shayari 2 lines

30+ Best Motivational Suvichar In Hindi | मोटिवेशनल सुविचार

30+ Best Good Night Motivational Quotes In Hindi

30+ Best Good Morning Motivational Quotes In Hindi

Leave a Comment

Your email address will not be published.

x
Scroll to Top