दोस्ती भी क्या गज़ब की चीज़ होती है,मगर ये भी बहोत कम लोगों को नसीब होती है…जो पकड़ लेते है ज़िन्दगी में दामन इसका,समझ लो के जन्नत उनके बिलकुल करीब होती है…!!

यदि तुम बेचो अपनी दोस्ती तो पहले ग्राहक हम होंगे तुम्हे अपनी कीमत पता नहीं होगी पर तुम्हे पाकर सबसे खुश नसीब हम होंगे

प्यार में दुनियाँ खुबसूरत लगती है.. दर्द में दुनियाँ दुश्मन लगती है… तुम जेसे दोस्त जिन्दगी में हो तो “बिसलेरी” भी साली “किंगफिशर” लगती है…

दो पल की जिन्दगी है यारो,मिलकर गले बिता लो यारो,दो घड़ी संग बिता लो यारो।

वातावरण को जो महका दे उसे ‘इत्र’ कहते हैं, जीवन को जो महका दे उसे ही ‘मित्र’ कहते हैं।

For more dosti shayari  Click Below Button