{ TOP 50 } Neend Shayari | नींद शायरी २ लाइन्स शायरी

दोस्तों नींद एक ऐसी चीज है जो बहुत कम लोगो को ही नसीब होती है आज हम इसी टॉपिक पे { TOP 50 } Neend Shayari | नींद शायरी २ लाइन्स शायरी लाये है.

Neend Shayari

कई रातों से सोया नहीं मैं
और ऐसी कोई रात नहीं गई
जान तुम्हें याद करके रोया नहीं मैं

नींद शायरी २ लाइन्स

जगा रहा है ज़माना मगर नहीं खुलतीं,
कहाँ की नींद इन आँखों में आ के बैठ गई.

Neend Shayari
नींद शायरी २ लाइन्स

एक नींद है जो रात भर नहीं आती हैं,
एक नसीब हैं जो ना जाने कबसे सो रहा हैं.

Neend Shayari

नींद शायरी २ लाइन्स

हम नींद के शौक़ीन ज्यादा तो नहीं लेकिन,
तेरे ख्वाब न देखूं तो गुज़ारा नहीं होता..!

Neend Shayari
नींद शायरी

नींद सुबह की लगती है सबको प्यारी,
उठना जरुरी भी, कि ▪️▪️
जिम्मेदारी बहुत
सारी हैं

Neend Shayari
Neend Shayari

जिनको रातों को नींद नहीं आती उन्हें ही
पता हैं की सुबह होने में कितने ज़माने लगे हैं!!

जब कोई अपना करीबी ही हमें धोका देकर
चला जाता है तब अक्सर चैन से सो पाना बहुत मुश्किल हो जाता है।

मुकदमा क्या चलाई तूने मेरे नींद पे,
मेरे सारे ख्वाब तेरे नाम हो गए.

नींद शायरी २ लाइन्स

नींद में भी सिर्फ आपके ही ख्याल देखते है
हम सच में आपसे बेहद इश्क़ करते है हम।

मेरी आंखों की नींदों से अब बनती नहीं है
वो लड़की रूठ गई है मुझसे मनती नहीं है

मेरी नींदे मुझसे गई जो दूर है
इसमें भी सारा तेरा कसूर है
क्योंकि नींद आती नहीं तब से मुझे
जब से गई मुझसे तू दूर है

Neend sad shayari

आती होंगी तुम्हे तो नींद सुकून से
क्योकि तुमने तो अलविदा भी
मुस्कुराके किया था ना।

कितने आँसू
एक साथ आंखों में आ जाते है
नींद उड़ जाती है तब
जब उनका ख्याल आ जाता हैं !!

यह ”राते” भी अजीब होती है
नींद आए या ना आए पर आपकी_याद जरूर दिलाती है

आज फिर #नींद उड़ गई ये सोचकर
सरहद पर बहा खून मेरी #नींद के लिए था

वक्त की मार मुझे जब से पड़ी है
तब से मेरी दिन रात की नींद उड़ी पड़ी हैं।

आज न नींद आई न ख्वाब आए
तुम जो ख्यालो मे बेहिसाब आए !!

वो आँखों में अरमान जगा
दिया करते हैं
फिर चुपके से नींद चुरा
लिया करते हैं !!

नींद नहीं आती शायरी इन हिंदी

जिस रात वो मेरे सपनो में आती है
वो रात मेरी सबसे ज्यादा हसीं बन जाती है।

मुझे नींद सिर्फ तुम्हें देखने के बाद आएगी
और चूंकि तुम दूर हो मुझसे
इसलिए अब नींद नहीं सिर्फ तुम्हारी याद आएगी

हम भी सो जायेंगे हमे भी नींद आ जाएँगी
अभी कुछ बेकरारी हे सितारों तुम
तो सो जाओ।

सूरज निकलने का वक़्त हो गया,
फूल खिलने का वक़्त हो गया,
मीठी नींद से जागो मेरे दोस्त,
सपने हक़ीकत में लाने का वक़्त हो गया!!

मेरी हिचकी गवाह है,
नींद उसकी भी तबाह है.,

उस रात से मैंने चयन से सोना छोड़ दिया
जिस रात से मेरे कंधो पे जिम्मेदारियों का बोझ आया।

नींद पर फनी शायरी

मेरी नींदों तक को खा गई याद उसकी
मूर्शद देखो आज फिर से आ गई याद उसकी

लगता है मेरी नींद का किसी पराये के
साथ चक्कर चल रहा है
सारी सारी रात गायब रहती है !!

जब किसी हसीं चेहरे से महोब्बत होती हैं
तब रातो की नींदे उड़ना तय हो जा जाता है।

तू देख सकता काश रात के पहरे में मुझको,
कितनी बेदर्दी से तेरी याद मेरी नींद चुरा लेती है.

लोग कहते है प्यार में नींद

दिल की किताब में गुलाब उनका था,
रात की नींद में ख्वाब उनका था,
कितना प्यार करते हो जब हमने पूछा,
मर जायंगे तुम्हारे बिना ये जबाब उनका था.

गजब की चीज हे नींद भी अगर
आये तो सब कुछ भुला देती हे
और न आये तो सब कुछ
याद दिला देती हे।

यू खाली पलकें झुका देने से नींद
नहीं आती
सोते वही लोग है जिनके पास
किसी की याद नहीं होती !!

तड़पते है ”नींद” के लिए तो यही #दुआ निकलती है !!!
बहुत बुरी है #मोहबत, किसी ”दुश्मन” को भी ना हो…

ये कहाँ की ”रीत” जागे कोई सोये कोई
रात सबकी है तो सबको “नींद” आनी चाहिये !!

आपसे बस में एक ही चीज कहना चाहता हूँ,
की आपसे मिले बगैर में चयन से सो नहीं पाता हूँ।

गुम है मेरी आँखों से नींद आज भी
याद करके रात कट जाती हैं आज भी !!

Neend nahi aati shayari 2 lines

तुम्हें भी नींद सी आने लगी है थक गए हम भी
चलो हम आज ये क़िस्सा अधूरा छोड़ देते हैं

जिस रात आपका ख्याल नहीं आते हमें उस
रात चयन से सो पाने में बड़ी दिक्कत होती है हमें।

मेरी आँखों से नींद में आंसू गिरते हे
जब तुम ख्वाबो में मेरा हाथ
छोड़ देते हो।

Neend kyun nahi aati hai shayari

नींद से वास्ता टूट गया
जब से तेरा रास्ता छूट गया
सारी रात जागकर गुज़ारता हू
और तेरा नाम पुकारता हू !!

तुम आओगी तभी आएगी
वरना नींद मुझे अब नहीं कभी आएगी

Neend shayari romantic

सारी रात जागकर उनको याद किया जाता है
ये वक्त सोने का यूंही बर्बाद किया जाता है

गहरी ”नींद” सोने वाले #मोहब्बत कर नही सकते,
सुकून कहाँ है इतना “मोहब्बत” करने वालो को।

Neend shayari in punjabi

ख्वाहिश चाहत से बढ़ गई तू इबादत हो गई हैं,
मेरी नींदों को भी तेरे सपनों की आदत हो गई हैं.

जो अभी भी नींद में हैं उन्हें नींद में ही रहने दो
आप उठो और अपने सपनो को साकार करने में लग जाओ।

रात की तन्हाई शायरी
जब तक सपने साकार नहीं हो जाते तब तक
चयन से सोना मेरे लिए थोड़ा मुश्किल होगा।

Neend shayari image

मैं सोता हूं रात में बात ये झूठी है
जब से गई हो तुम सोता नहीं हूं नींद मेरी आंखों से रूठी है

आँखों के सहारे तुम दिल में उतरने लगे
दिन और रात मेरे प्यार से सवरने लगे
ख्याल भी मीठे-से आने लगे है
जो मेरी नींद को चुराने लगे है !!

Chain ki neend shayari

सुकून से वो ही शक्श सो पाता हैं
जो दिन भर मेहनत कर के आया होता है।

नींद तो बहुत आ रही है लेकिन सो नहीं सकता,
क्योंकि अपने ख्वाबो को हकीकत में बदलन अभी थोड़ा बाकी है।

तुम्हारे_सपने पूरे नहीं हुए,
मुझे तो ”नींद” तक नहीं आती।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top